September 22, 2023

सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी के विद्युत गृह-4 ने सर्वाध‍िक बिजली उत्पादन का बनाया रिकार्ड

3968 मिलियन यूनिट उत्पादन, 90.6% पीएलएफ और 94.3% पीएएफ

(भोपाल) मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी लिमिटेड के सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी के विद्युत गृह क्रमांक-चार ने वित्तीय वर्ष 2022-23 में कुल 3968 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादन के साथ 90.6 प्रतिशत प्लांट लोड फेक्टर (पीएलएफ) और 94.3 प्रतिशत प्लांट अबेबिलिटी फेक्टर (पीएएफ) हासिल किया। यह विद्युत गृह की स्थापना से अभी तक का सर्वाध‍िक विद्युत उत्पादन के साथ सर्वाध‍िक पीएलएफ तथा पीएएफ है। उल्लेखनीय है कि विद्युत गृह क्रमांक-4 में 250-250 मेगावाट की दो इकाइयाँ संचालित हैं।

इकाई क्रमांक-11 ने 100 प्रतिशत पीएएफ और अधिकतम विद्युत उत्पादन का बनाया रिकार्ड

सारनी ताप विद्युत गृह की 250 मेगावाट क्षमता की इकाई क्रमांक-11 ने वित्तीय वर्ष 2022-23 में कुल 2101.8 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादन कर नया कीर्तिमान बनाया है। इस इकाई का पीएलएफ 96 प्रतिशत और पीएएफ 100 प्रतिशत रहा। यह अभी तक का सर्वाधिक विद्युत उत्पादन, सर्वाध‍िक पीएलएफ एवं पीएएफ का कीर्तिमान है। इस इकाई की वार्षिक विशिष्ट तेल खपत 0.07 मिलीलीटर प्रति यूनिट और ऑक्जलरी कंजम्पशन 7.99 प्रतिशत रहा, जो कि इकाई की स्थापना काल से अभी तक का न्यूनतम है।

दोनों इकाइयाँ रहीं सतत् क्रियाशील

सतपुड़ा ताप विद्युत गृह की दोनों इकाइयाँ 15 अक्टूबर 2022 से लगातार उत्पादन करते हुए 177 दिनों से सतत् क्रियाशील हैं। वित्तीय वर्ष में इकाई क्रमांक 10 एवं 11 ने क्रमश: 213 और 202 दिनों तक सतत् क्रि‍याशील रहने की विश‍िष्ट उपलब्ध‍ि हासिल की है।

व‍िश‍िष्ट तेल और ऑक्जलरी खपत में भी रिकार्ड

सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी की 250-250 मेगावाट क्षमता के विद्युत गृह क्रमांक-4 की विशि‍ष्ट तेल खपत 0.14 मिलीलीटर प्रति यूनिट और संयंत्र सहायक विद्युत खपत (ऑक्जलरी कंजम्पशन) 8.08 प्रतिशत रही। यह विद्युत गृह के स्थापना काल से अभी तक की न्यूनतम खपत है।

ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी के विद्युत गृह क्रमांक-4 द्वारा इतिहास में सर्वाध‍िक विद्युत उत्पादन, सर्वाध‍िक पीएलए एवं पीएएफ अर्जित करने के लिए अभ‍ियंता और कार्मिकों को बधाई दी है।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी देखें