कनाडा पर भारत ने अपनाया सख्त रुख, वीजा सर्विस सस्पेंड कर नागरिकों की एंट्री पर लगाई रोक

(भोपाल)  भारत और कनाडा के बीच तनाव बढ़ गया है। पहले दोनों देशों के डिप्लोमेट्स को सस्पेंड किया और अब नई दिल्ली ने कनाडाई नागरिकों के लिए वीजा सेवाओं को अनिश्चित काल के लिए निलंबित कर दिया है। ये भारत की ओर से अब तक का सबसे बड़ा कदम है। दोनों देशों के बीच तनाव उस वक्त बढ़ गया जब कनाडा के पीएम ने खालिस्तान समर्थक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का आरोप भारत पर लगाया।

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, वीजा सेवाओं के निलंबन की कोई औपचारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि कनाडा में वीजा आवेदन केंद्र चलाने वाले बीएलएस इंटरनेशनल ने इस संबंध में अपनी कनाडाई वेबसाइट पर एक मैसेज पोस्ट किया है। इस संदेश में लिखा, “भारतीय मिशन से महत्वपूर्ण सूचना: परिचालन कारणों की वजह से गुरुवार (21 सितंबर 2023) से भारतीय वीजा सेवाओं को अगली सूचना तक निलंबित कर दिया गया है।”

भारतीय अधिकारी ने की पुष्टि

मामले पर एक भारतीय अधिकारी ने निलंबन की पुष्टि की लेकिन इसको लेकर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा, “भाषा स्पष्ट है और यह वही कहती है जो वह कहना चाहती है।” यह पहली बार है जब भारत ने कोविड-19 महामारी के बाद वीजा निलंबित किया है। इससे पहले विदेश मंत्रालय की ओर से एडवाइजरी जारी करके कहा गया था कि कनाडा जाने वाले भारतीय नागरिक सावधानी रखें। ऐसे किसी भी इलाके में न जाएं जहां पर भारत विरोधी घटनाएं हुई हों या फिर ऐसा होने की आशंका हो। कनाडा में हेट क्राइम बढ़ गया है और वहां जाने पर सावधानी बरतें।

भारत ने कनाडा से मांगे सबूत

बुधवार (20 सितंबर) को संसद के विशेष सत्र के दौरान ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल गृह मंत्री अमित शाह से मिलने पहुंचे थे। उसके बाद से भारत लगातार कनाडा खिलाफ एक्शन में है। भारत ने कनाडा से कहा कि जो आरोप लगाए हैं उसके सबूत पेश करने होंगे।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

यह भी देखें