देश में बिजली का 40% हिस्सा गैर परंपरागत स्रोतों से करने की दिशा में मध्यप्रदेश की भी भागीदारी रहेगी: मंत्री श्री शुक्ला

नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री शुक्ला ने मंत्रालय में कार्यभार ग्रहण किया

(भोपाल) नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री राकेश शुक्ला ने कहा की आज की प्रमुख आवश्यकता है ऊर्जा यानी कि बिजली। गैर परंपरागत स्रोतों से 2030 तक देश की 40% बिजली का उत्पादन करने का लक्ष्य प्रधानमंत्री मोदी जी का है। बिजली के गैर परंपरागत स्रोतों को अपने आप में समाए हुए नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के उर्जा के विजन के प्रति कृत संकल्पित है।

नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री राकेश शुक्ला ने मंत्रालय में अपने कक्ष में पूजा-अर्चना कर कार्यभार ग्रहण किया। इस अवसर पर मंत्री श्री राकेश शुक्ला ने कहा कि नवकरणीय ऊर्जा में तेजी से परिवर्तन की आवश्यकता पहले से कहीं अधिक जरूरी है। कोयला, तेल और गैस के जलने से होने वाला जलवायु परिवर्तन पहले से ही दुनिया भर के समुदायों, अर्थव्यवस्थाओं और पारिस्थितिक तंत्र को हानि पहुँचा रहा है। जलवायु परिवर्तन से निपटने का सबसे आसान तेज और सबसे प्रभावी तरीका नवकरणीय ऊर्जा और भंडारण पर आधारित ऊर्जा की ओर हमें आगे बढ़ाना होगा। जिससे 2030 तक बिजली उत्पादन का 40% हिस्सा गैर परंपरागत स्रोत से पूरा किया जाना है। जिसके लिए हम सब कृत संकल्पित होकर जुट जाये।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री श्री ओपीएस भदोरिया,विधायक भिण्ड श्री नरेंद्र सिंह कुशवाह जनप्रतिनिधि,विभाग के अधिकारियों ने मंत्री शुक्ला को कार्यभार ग्रहण करने पर बधाई दी।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *