December 6, 2021

चार साल से फरार चल रहे बडारी के पूर्व सरपंच वंश गोपाल दुबे को कैमोर पुलिस ने किया गिरफ्तार

(कैमोर) पुलिस अधीक्षक कटनी सुनील कुमार जैन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कटनी मनोज केडिया के निर्देशन में कैमोर पुलिस ने विगत चार वर्षों से पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहे स्थाई गिरफ्तारी वारंटी पूर्व ग्राम पंचायत सरपंच बडारी वंश गोपाल दुबे पिता नंद गोपाल दुबे उम्र करीब 45 साल निवासी ग्राम बडारी थाना कैमोर जिला कटनी को गत रात्रि जबलपुर में शास्त्री ब्रिज के पास इंपीरियल होटल से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है । उल्लेखनीय है कि पूर्व ग्राम पंचायत सरपंच वंश गोपाल दुबे के विरुद्ध माननीय न्यायालय श्री अनुपम तिवारी , न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी विजयराघवगढ़ द्वारा दो अलग-अलग आपराधिक प्रकरणों में स्थाई गिरफ्तारी वारंट जारी किए गए हैं । वर्ष 2011 में विजयराघवगढ़ निवासी इंद्रदेव सिंह को ₹355000 का चेक दिए जाने के बाद भुगतान न किए जा कर फरार हो जाने पर धारा 138 नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट्स एक्ट के तहत दिनांक 18 मार्च 2017 को स्थाई गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया। इसी तरह धारा 188 भारतीय दंड विधान के अंतर्गत एक अन्य प्रकरण में भी फरार आरोपी वंश गोपाल दुबे की गिरफ्तारी के लिए स्थाई गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया। फरार आरोपी वंश गोपाल दुबे विगत चार वर्षों से पुलिस को चकमा देकर जबलपुर, भोपाल, रीवा एवं सतना के होटलों में रुक कर फरारी काट रहा था। पुलिस अधीक्षक कटनी सुनील कुमार जैन के निर्देशन में टी. आई. कैमोर अरविंद जैन ने लगातार फरार आरोपी की पतासाजी के प्रयास किए और गत रात्रि कैमोर पुलिस की टीम उप निरीक्षक आरपी रावत, कार्यवाहक प्रधान आरक्षक प्रेम शंकर पटेल, आरक्षक विक्रम, आरक्षक अचल एवं महिला आरक्षक भावना तिवारी , साइबर सेल कटनी से आरक्षक प्रशांत एवं सत्येंद्र सिंह राजपूत की मदद से जबलपुर में शास्त्री ब्रिज के पास इंपीरियल होटल के कमरे से फरार आरोपी को पकड़ने में सफलता प्राप्त की। पुलिस अधीक्षक कटनी श्री जैन जी के द्वारा फरार अपराधी की गिरफ्तारी पर उस पर घोषित इनाम राशि टीआई कैमोर और उनकी टीम को देने की घोषणा की है ।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *