December 6, 2021

ब्रेकिंग न्यूज़ : ईमानदार टीआई अरविंद जैन का ट्रांसफर निरस्त होने से “कहीं खुशी कहीं गम”

(भोपाल) “सत्य परेशान हो सकता है परंतु पराजित नहीं” इस वाक्य का जिक्र करते हुए फेसबुक एवं सोशल मीडिया में जश्न एवं बधाइयों का सिलसिला शुरु ही हुआ था कि कुछ समय बाद यह पूरा खुशी का माहौल गमगीन हो गया। खबर कटनी जिले की विजयराघवगढ़ तहसील की है, जहां भारतीय मजदूर संघ कैमोर में हुए चुनाव को लेकर अध्यक्ष गणेश राव एवं संघ के सदस्य अनुराग दुबे के बीच का मतभेद एवं विवाद पंजीयक कार्यालय भोपाल से होता हुआ थाना कैमोर पहुंचा।

कैमोर थाना में पदस्थ थाना प्रभारी अरविंद जैन जिनकी छवि एक बेहद कर्तव्य निष्ठ एवं ईमानदार अधिकारी की है, उनकी निष्पक्षता, निर्भीकता एवं सत्यता से की जा रही जांच का असर इतना अधिक हुआ कि भाजपा नेता गणेश राव द्वारा उन पर उन्हें जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए पुलिस अधीक्षक कटनी सुनील जैन से शिकायत कर दी गई।

नियति की विडंबना कहें या संयोग कि टी आई अरविंद जैन का स्थानांतरण पुलिस अधीक्षक कटनी द्वारा कुठला थाना कर दिया गया। शासकीय नौकरी मे स्थानांतरण एक स्वाभाविक प्रक्रिया होती है लेकिन उनका स्थानांतरण की खबर मिलते ही भाजपा नेता गणेश राव से संबंधित कुछ लोगों के द्वारा इसे बहुत बड़ी सफलता बताते हुए बधाइयों के साथ जश्न मनाना प्रारंभ ही हुआ था कि माहौल गमहीन  हो गया।

“भगवान के घर देर है अंधेर नहीं” कारण जो भी हो सफलता का आलाप जिस अनुभूति के साथ शुरू हुआ तत्काल प्रकृति ने सत्य का साथ दिया और एक ईमानदार अधिकारी का स्थानांतरण विभिन्न कारणों से निरस्त कर दिया गया। टी आई का स्थानांतरण निरस्त होने से क्षेत्रवासियों में खुशी स्पष्ट देखी जा सकती है क्षेत्रवासियों का कहना है की ट्रांसफर सहज प्रक्रिया के अनुसार होना चाहिए लेकिन आरोप प्रत्यारोपों के कारण नहीं। यदि आरोपों प्रत्यारोपों के आधार पर ट्रांसफर किया जाता है तो अधिकारियों का ईमानदारी एवं निर्भीकता से काम करने का मनोबल टूट जाता है और समाज में गलत संदेश जाता है।

इसे भी पढ़े : – ब्रेकिंग न्यूज़ : मध्यप्रदेश के पूर्व राज्य मंत्री एवं वर्तमान विधायक संजय सत्येंद्र पाठक को बदनाम करने की साजिश

ज्ञात हो कि अरविंद जैन ने जब से कैमोर थाना का प्रभार सम्भाला है। सबसे पहले उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के तहत थाना परिसर की स्वच्छता का विशेष ध्यान दिया है। इसके साथ ही प्राकर्तिक आपदा कोरोना संकट काल मे उनके द्वारा नगर और ग्रामो में निर्धन असहाय एवं कमजोर वर्ग के लोगों को खाद्यान्न सामग्री घर घर पहुंचा कर ससम्मान उपलब्ध कराई गई। उन्होंने बखूबी अपना मूल कर्तव्य अपराधों की रोकथाम एवं जन सुरक्षा के लिए बहुत ही सख्त कदम उठाते हुए गंभीर अपराधों का पर्दाफाश बड़ी ही निर्भीकता एवं सच्चाई के साथ किया है।
बहरहाल भाजपा नेता भारतीय मजदूर संघ के अध्यक्ष गणेश राव एवं संघ के सदस्य जिन्हें शिकायत उपरांत निष्कासित कर दिया गया है दोनों की ओर से परिवाद माननीय न्यायालय में पेश किया गया है। अब सही और गलत का निर्णय माननीय न्यायालय के द्वारा किया जाएगा जिसका इंतजार क्षेत्र की जनता बहुत ही आशाभरी नजरों से देख रहे हैं।

  संतोष प्रसाद तिवारी
    (चीफ एडिटर)
RPKP INDIA NEWS

 

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *